{नई} यूपी राशन कार्ड लिस्ट 2020-New FCS UP Ration Card at fcs.up.gov.in

यूपी राशन कार्ड लिस्ट 2020 यानि FCS UP Ration Card list अभी fcs.up.gov.in में जारी हो चूका है।इस लिस्ट में पुराने वाली नाम और कार्ड धारको के तथ्य update किए गए है। जो भी अपना नाम और राशन कार्ड नंबर, BPL/APL कार्ड के सूचि जानना चाहते है वो जरूर आगे पढ़े।

उत्तरप्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। सबसे बड़े प्रदेश के हिसाब से UP सरकार ये फर्ज बनता है की वो राज्य के सभी गरीब और आदिबासी समाज के लोगो को केंद्र सरकार के गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत योजना UP Ration Card का लाभ उठाने का अबसर दे।

जैसे की आप सब जानते है भारत में राशन कार्ड की जारी होने दिनों से, इसमें खामिआ थी। कुछ स्थानों में गरीब के बदले में आमिर लोग राशन लूट रहे थे। UP के बहत सारे ऐसी भी स्थान था जहाँ मृत ब्यक्ति और पैदा नहीं हुए लोगो के नाम पे ration card, issue हुआथा। इससे बहत सारे मंद बुद्धि लोग सरकारी संपत्ति का बेआइन तरीके से लूट रहे थे। इसके कारन भारत सरकार के भंड़ार से राशन आरहाथा मगर गरीबो के पास नहीं पहंचताथा।

UP Ration Card 2020 by fcs.up.gov.in

उत्तर प्रदेश में राशन कार्ड का बहत ही बड़ा घोटाला चल रहा था। मगर भारत सरकार ने एक आदेश जारी करके FCS UP Ration Card में बड़े बदलाव करबाया। अब FCS यानि Food and Civil Supplies के अंतर्गत UP के ration card list जारी किए है। इस नेया लिस्ट उत्तर प्रदेश सरकार के official वेबसइट fcs.up.gov.in में उपलब्ध है।

FCS UP Ration Card में हुए बड़े बदलाव और नया नियम के बारेमे जानने से पहले चलिए कुछ जरुरी तथ्य अपने दिमाग में डालते है।

UP Ration Card क्या है?

यूपी राशन कार्ड एक सरकारी कागजात है जो उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जारी किए जाता है। इस कार्ड के सहायता से गरीब और मजदुर लोगो को सब्सिटी में खाद्य सस्य पदार्थ आबंटन किए जाता है।

राष्ट्रीय खाद्य सुरख्या आइन के अनुसार, भारत क्वे सभी राज्य सरकारो को अपने राज्य में गरीब और मजदुर परिबार का पेहेचान करके उन्हे एक पेहेचानपत्र जारी करना पड़ेगा। उस पहचान पत्र में परिबार के सभी सदस्य और सदस्य के उम्र उल्लेख होगा। सभी परिबार को उनके परिबार के अनुसार खाद्य और सस्य प्रदान किआ जाएगा।

यूपी का पुरानी Ration Card

UP के पुराने Ration Card में बहत सारे खामिआ थी। इन् खामिओ के बदौलत बहत सारे लोगो का दूकान चल रहा था। मगर प्रदेश की जनता के पास सरकार से भेजे गए अर्थ ऊपर से नीचे तक मफ़िआओ के कब्ज़ा था। इसके अलावा और भी असुबिधा जो आम जनता को तकलिप में पका रहाथा। जैसे की:

  • फर्जी लोगो का राशन कार्ड बनना और रासन दुकान से रासन लेना
  • बिना Verification में चावल बांटा जाना।
  • राशन दुकानदार अपने मन से चावल बेचना।
  • कम परिबार सदस्य वाले और अधिक सदस्य वाले परिबार को एक ही परिमाण यानि 35 किलो का रासन मिलना।
  • एक दूसरे के कार्ड का गलत इस्तेमाल करना।

इन् सभी खामिआ को दूर करने केलिए केंद्र सरकार राशन कार्ड संसोधन नियम लागु किए। अब चलिए जानते है नया राशन कार्ड के नया नियमो और पुराने राशन कार्ड में क्या बदलाव किआ गया है।

New FCS UP Ration Card

जैसे की आप जानते है पुरानी राशन कार्ड के में बहती ही खामिआ थी। इसको सुधारने केलिए योगी आदित्यनाथ के अगवाई वाली उत्तर प्रदेश सरकार ने सबसे पहले प्रदेश की सभी ग्राम के लोगो के आर्थिक स्तिथि देखि। उसके बाद गरीबो को दो श्रेणी में भाग किए गए। पहले भाग के गरीब और मजदुर श्रेणी के लोगो को रखा गया। इन् लोगो को एक कार्ड जारी किए गए। इस कार्ड का नाम UP Ration Card रखा गया। दूसरे में गरीब के निम्न सिमा में आबस्तित लोगो को रखा गया। इन् लोगो को और एक कार्डजारी किए। इस कार्ड को अन्तरदोय Antyodaya (AAY) राशन कार्ड नाम दिए गए।

नेया UP Ration Card में सबसे पहले परिबार के सभी सदस्य का आधार लिंक किए गए। इसके द्वारा फर्जी लोगो का प्रबेश दरवाजा बंद हो गया। केबल जिन्दा और स्थानिए निबासी को कार्ड मिलपाया।

सभी परिबारों के नाम, आधार कार्ड नंबर और कितने चावल या गेहू मिले इसका एक सूचि Ration कार्ड में चिपकाया गया है। इसके अलावा कार्ड में एक Barcode जैसे Technology का इस्तेमाल भी हो रहा है।

राशन कार्ड में दूसरे सबसे बड़े बदलाव हुआ आधार द्वारा राशन बंटन। अब नया नियम हुआ की कोई राशन कार्ड धरी अपने परिबार के सदस्य के बिना राशन नहीं ले सकता। इस कारन से कोई भी बाहरी लोग दूसरे के राशन कार्ड का गलत इस्तेमाल नहीं कर सकता है।

पिछले दिनों में हर छोटे बड़े परिबारों को 35KG चावल मिलता था। मगर अब लोगो के परिबार के सदस्य के अनुसार हर सदस्य के पीछा 5KG चावल या गेहू मिल रहा है।

आधार लिंक होने से गरीब और आमिर लोगो का पता चल रहा है। जो लोग Gas का सब्सिडी मिल रहा है उन्हे किरोसिन में सब्सिडी नहीं मिल रहा है। राशन कार्ड का सभी कार्य अब DM के द्वारा परिचालित हो रहा है।

जरुरी लिंक

योजना का नाम यूपी राशन कार्ड योजना
सरकारी वेबसाइटhttps://fcs.up.gov.in/
राज्यउत्तर प्रदेश
fcs.up.gov.in

FCS (fcs.up.gov.in)-खाद्य एवं रसद विभाग,उत्तर प्रदेश सरकार

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के राशन कार्ड आबंटन और देख रेख केलिए एक बिभाग का गठन किए है। इस बिभाग का नाम खाद्य एवं रसद विभाग है जिसे FCS department भी बोलै जाता है। ये बिभाग प्रदेश के सभी जिल्ला और ग्राम का खाद्य आबंटन के सभी कार्य और दुकानदार को परिचालित करता है। इस बिभाग का एक सरकारी वेबसाइट प्रस्तुस्त किआ गया है। जिसको आप fcs.up.gov.in URL में जेक देख सकते है। आपको बतादे की FCS UP जैसा दूसरे बहत सारे fake वेबसाइट इंटरनेट में उपलब्ध है। आपको केवल gov.in Domain वाली वेबसाइट पे जाना है।

fcs.up.gov.in क्या तथ्य उपलब्ध है?

अगर आप fcs.gov.in में पधारोगे तो इसका मूल पृष्ठा इस तरह से दिखाई देगा। इसमें राज्य के बहत सारे तथ्य उपलब्ध है। जैसे की राशन कार्ड केलिए सभी महत्वपूर्ण फॉर्म, खाद्यान्न आवंटन, वितरण एवं अवशेष रिपोर्ट, सप्लाई चेन सारांश, राज्य खाद्य आयोग, महत्वपूर्ण सरकारी आदेश, UP Ration Card list, रासन दुकानदार के नाम और पता अनेक खाद्य बिभाग के दस्ताबिज।

UP Ration Card कैसे चेक करे?

  1. यूपी के खाद्य एवं रसद विभाग के वेबसाइट में जाइए

    UP Ration Card को चेक करने केलिए सबसे पहले आपको यूपी के खाद्य एवं रसद विभाग के वेबसाइट में जाना होगा। जिसका पता ऊपर में दिए गए है।

  2. अपने जिल्ला का नाम चुने

    दूसरी स्टेप को पूरा करने के बाद और एक tab में आपका जिल्ला का सूचि आजाएगा। आपको अपने जिल्ला का नाम के उपर क्लिक करना पड़ेगा।

  3. अपने टाउन या ब्लाक चुने

    अब आपके स्क्रीन में अपने जिल्ला के अंतर्गत सभी टाउन और ब्लाक का नाम दिखाई देगी। उसमे से आप अपने स्थानिअ जगह के नाम पे एक बार क्लिक करदिजिए।

  4. ग्राम पंचायत को चुने

    ब्लाक के बाद है ग्रामपंचायत की। अब आप अपने इलाका का ग्रामपंचायत का नाम पे क्लिक करके आगे बढ़िए। इस पृष्ठा में आपको अपने पंचायत की कुल Ration Card धारको की संख्या पासकते है।

  5. अपने गांव का रासन दुकानदार के नाम खोजे

    अगर आपके इलाके में एक से ज्यादा रासन दुकानदार है तो आपको सभी दुकानदार के नाम दिखाई देगी। अब उनका नाम के दाहिने तरफ के बॉक्स में उपलब्ध नंबर पे क्लिक कीजिए।

  6. अपने नाम खोजिए

    जैसे की आप जानते है आपका राशन कार्ड घर के सबसे बुजुर्ग महिला के नाम पे होती है। अब आपके स्क्रीन पे अपने इलाका के सभी राशन कार्ड धारको का नाम दिखाई देगी। आप राशन कार्ड धारको के नाम को इस लिस्ट में ढूंढे। अगर आपका नाम पहेली पृष्ठा में नहीं है आप दूसरे, तीसरे पृष्ठा में ढूंढे। आपका नाम मिलने के बाद अपने बाम पख्य में उपलध कार्ड नंबर पे क्लिक कीजिए।

  7. UP Ration Card अपने स्क्रीन पे देखिए

    अब अंतिम में आप अपने स्क्रीन पे अपने राशन कार्ड का सभी सुचना पाओगे जैसे डिजिटाइज्ड राशन कार्ड संख्या, दुकानदार का नाम, दुकान संख्या, धारक का नाम, धारक के पिता/पति का नाम, धारक की माता का नाम, सदस्यों की कुल संख्या और परिबार के सदस्यों का पू्र्ण विवरण।

उत्तर प्रदेश FCS से जोगाजोग करे

उत्तर प्रदेश की FCS ने तीन सरकारी जोगाजोग नंबर जारी किए है। इन् नंबर पे कॉल करके आप अपने अभिजोग दाखिल कर सकते है।

18001800150

1967

इन् दोनों नंबर के अलावा आप निचे दिए गए पते पे जाके अपने अभिजोग दाखिल करसकते हो।

Commissioner, Food and Civil Supplies Department, UP,
Second Floor, Jawahar Bhawan, Lucknow (UP), 226001

UP Ration Card से जुडी पूअक्सर पूछे जाने वाले सवाल

  1. रासन दुकान से रसन लेने केलिए क्या राशन कार्ड की जरुरत है?

    अब केंद्र सरकार के नेई नियमो के अनुसार सभी राशन कार्ड धारको को रासन लेने केलिए रासन कार्ड होना जरुरी है।

  2. क्या राशन कार्ड में आधार कार्ड लिंक करना हरूरी है?

    अब बिना आधार कार्ड के कोई भी लोग राशन कार्ड नहीं बनवा सकता है। इसके लिए आपको राशन कार्ड में आधार कार्ड को लिंक करना जरुरी है।

  3. क्या में UP Ration card को दिल्ली राज्य में इस्तेमाल कर सकता हूँ?

    अब एक One nation one Ration Card के नियमो के मुताबिक आप देश भर में कहीं पे हो आप अपने राशन के द्वारा रासन ले सकते है।

  4. यूपी में राशन कार्ड कैसे आबेदन करे?

    नेई राशन कार्ड apply करने केलिए आपको अपने ब्लाक ऑफिस में जाके नई राशन कार्ड केलिए आबेदन फॉर्म को लिख के वहाँ के अफसर को दाखल कीजिए। सरकारी कर्मचारी आपके डस्टबीजो को verify करेंगे और कुछ दिनों के बाद आपके पंचायत से राशन कार्ड मिल जाएगा।

  5. मेने रासन कार्ड केलिए आबेदन किए है मगर मेरा नाम नहीं आया?

    अगर आप रेशम कार्ड केलिए आबेदन किए है और आपका नाम fcs.up.gov.in में नहीं है तो आप अपने सरपंच अथबा ब्लाक अधिकारी को संपर्क कर सकते है।

अंतिम बात

इस लेख में आपने उत्तर प्रदेश सरकार की FCS UP Ration Card के बारेमे जानकारी पाई। इसके अलावा आप कैसे fcs.up.gov.in में अपने नाम चेक कर सकते है जाना।

अब आप पुराने दिनों के राशन कार्ड और इस नेया राशन कार्ड के बीच का अंतर देख लिए होंगे। अब सवाल उठता है की क्या अभी भी उत्तर प्रदेश में राशन कार्ड में घोटाला का अंत हुआ है? नीचे कमेंट करके अपना राय रखे।

अगर आपके मन में कुछ सवाल है, तो आप मुझे Facebook या twitter में या फिर contact पेज से पूछ सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *