One Nation One Market Scheme- जानिए कैसे करोडो किसानो को मिलेगा ये फायदा

हाल की दिनों में नरेंद्र मोदी Cabinet ने One Nation One Market Scheme यानि एक देश एक बाजार योजना का मंजूरी दे दी है। अब इस योजना के माध्यम से देश की करोडो किसान को मिलेगा बहत सारे सुबिधा और आर्थिक स्वाबलंबी होनेका सुजोग। देश के सभी किसान इस योजना के बारेमे जानना चाहिए और भरपूर लाभ उठाइए।

करोना वायरस के इस महामारी के बिच में मोदी सरकार ने एक बड़ी फैसला लिए। 1 जून 2020 सोमबार को हुए कैबिनेट मीटिंग में किसान के हित को देखते हुए देश भर में एक देश एक बाजार यानि One Nation One Market Scheme लागु करने का फैसला लिए।

One Nation One Market Scheme क्या है?

One Nation One Market Kya Hai
One Nation One Market

One Nation One Market योजना के अनुसार अब देश के सभी किसान अपने फसल को अपने हिसाब से देश के कोई भी बाजार में बिना कोई असुबिधा से बेच सकता है। इस योजना को लागु करने केलिए सरकार ने एसेंशियल कमोडिटी एक्ट 1955 में भी बदलाव किए है।

आसान भाषा में बोला जाए तो अब इस योजना का लागु होने से किसानो केलिए पूरी देश एक बड़ी market बन गया है। किसान जब चाहे अपने सामान को बेच सकता है।

योजना का नाम One Nation One Market
लागु होने का तारीख 01 जून 2020
किसने लागु किएकेंद्र सरकार
फायदाकिसानो केलिए देश भर का बाजार खुल गया
कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर

जरुरी जानकारी: एक देश एक बाजार योजना के सबसे बड़ी बात ये है की इस योजना में किसानो को कोई भी Tax किसी भी सरकार को नहीं देना पड़ेगा। यानि किसानो के सभी Product बेचने केलिए Tax Free होगी।

One Nation One Agri Market के बिना हो रहे असुबिधा

जैसे की आप जानते है झारखड राज्य में अधिकतम किसान चावल का खेती करते है। मगर आसाम राज्य में अधिकतम लोग चाए का खेती करते है। आमतौर पर आसाम में चावल का मूल्य झारखण्ड से ज्यादा होगा और झारखण्ड में चाए का मूल्य आसाम के तुलना में अधिक होगा। अब झारखण्ड के किसान चाहे तो अपने चावल को लेके आसाम में बेच सकता है और आसाम का किसान अपने चाए को झारखण्ड में अछे दामों में बेच सकता है। आगे पढ़िए: पीएम किसान सम्मान निधि योजना से कैसे Rs.2000 रूपए जल्द मिलसकता है।

पिछले दिनों में भारत में कनून था, कोई भी किसान अपने फसल को अपने ही राज्य में बेच सकता है। चाहे उस फसल का दाम उस राज्य में कितना कम भी हो। अगर कोई दूसरे राज्य में बेचना हो तो उससे एग्रीकल्चर प्रोडक्ट मार्केट कमेटी की माध्यम से बेच सकता है। इससे किसानो को ढ़ेर सारे असुबिधा का सामना करना पड़ता था।

One Nation One Market को कैसे आबेदन करे

फिलाल केलिए सरकार के तरफ से इस्सके संबधित कुछ बताया नहीं गया है। मगर मीडिया के मुताबिक आप अपने PAN कार्ड और Aadhaar कार्ड को लेके देश भर के किसी भी मंडी पे बेच सकते है।

कृषि मंत्री ने क्या बोलै

One Nation One Market योजना का लागु होने के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को धन्यबाद करते हुए बोले की इस योजना का लागु होने से देश भर के किसान का आर्थिक सहायता मिलेगा। अब किसान अपने फशल का उच्चित दाम मिलेगा। इसके अलावा उन्होंने कहा की किसानो के अच्छाई केलिए आगे अगर कुछ बड़े फैसला लेना पड़ेगा तो सरकार जरूर बिचार करेगी। आपको जानना जरुरी है: प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता के Rs.3000 का pension.

One Nation One Agri Market Full Details In Hindi 🔴 किसानो को मालामाल करने वाली मोदी सरकार की योजना

एक देश एक बाजार से जुडी अन्य सूचना

केंद्र कैबिनेट One Nation One Market Scheme के साथ साथ तीन और नियमो में बदलाव किए है।

  1. कृषि उत्पाद में भण्डारण की सीमा
  2. संपर्क स्थापन करने की अनुमति
  3. आवश्यक वस्तु में बदलाव

कृषि उत्पाद में भण्डारण की सीमा

आजतक हमारे देश में एक नियम था की देश का कोई भी किसान अपने उत्पाद का भण्डारण कुछ सिमा तक करसकते है। अगर इससे अधिक किए तो क़ानूनी तर पर दण्डित होना पड़रहा था। इससे किसानो को फसल उगने के बाद सस्ते दामों में बाजार में बेचने पड़ते थे।

कृषि उत्पाद में भण्डारण की सीमा नियमो में अब सरकार ने बदलाव कर दिए है। जिससे अब किसान भाई अपने उत्पाद को जबतक चाहे और जितना चाहे भण्डारण करसकते है। इससे किसान अपने उच्चित मूल्य से बेचेगा। मगर भण्डारीकरण नियम आवश्यक वस्तु और सेवा में लागु नहीं होता है।

संपर्क स्थापन करने की अनुमति

अगर आप एक गन्ना का किसान हो और आप चाहते हो की अपने उत्पाद को सीधे चीनी कंपनी को अच्छे दामों में बेचना। मगर इसके लिए आपको अनुमति नहीं थी। आपको केवल कुछ लोगो को बेचना था और वो चीनी कम्पनीओ को संपर्क करके बेचेंगे। इससे किसान को कुछ कम पैसा मिलता था।

अब संपर्क स्थापन करने केलिए सरकार ने किसानो को अनुमति दे दिए है। अब किसान सीधे कंपनी से order ले सकता है और अधिक मुनाफा कमा सकता है।

आवश्यक वस्तु में बदलाव

अनाज, दाल प्याज, आलू, खाद्य तेल और तिलहन पिछले दिनों आवश्यक बस्तु के अंदर आते थे। इन बस्तु को कोई भी किसान भण्डारण नहीं करसकता है। अगर कोई भी किसान चोरी छिप्पे करता है तो उससे कालाबाज़ारी कानून के मुताबिक गिरफ्तार किए जाता था।

अब सरकार केबल अनाज, दाल प्याज, आलू, खाद्य तेल और तिलहन को आवश्यक वस्तु तालिका से हटा दिए है। इसके अलावा किसान अब इन् चीजों की भण्डारीकरण कर सकता है।

अंतिम बात

दोस्तों अंत में यह बताना चाहूंगा की One Nation One Market योजना देश की सभी किसानो केलिए बहत है फायदा मंद होगा। अगर आप एक किसान हो तो आपको इससे जुडी सभी तथ्य पता चलगेया होगा। फिर भी आपको कुछ भी सहायता हो तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है।

अगर ये लेख आपके लिए फायदेमन्द हुआ है तो इससे आगे शेयर कीजिए। धन्यबाद।

नमस्कार मेरे प्रिय पाठक बंधू , में सुभेंदु Blog No 1 का Founder और लेखक हूँ। अगर मैं मेरे Education के बारेमे बात करूंगा तो में एक Engineering Graduated हूँ। मुझे लोगो को कोई भी नेई Technology और कोई भी नई ज्ञान देने में खुसी मिलती है। इसीलिए में आपके पास मेरे ज्ञान के अनुसार सभी तथ्य को सामान्य भाषा में पेस करता हूँ।

1 Comment
  1. Hi there, I check your blogs like every week. Your story-telling
    style is awesome, keep doing what you’re doing!

Leave a reply

Blog No1.Com