Computer क्या है? What is Computer in Hindi?

Computer क्या है? Computer का full from क्या है? कंप्यूटर केसे चलता है? साधारण भासा में जानिए कंप्यूटर का basic knowledge, कंप्यूटर parts, और कम्प्यूटर कैसे हमारे जीबन सैली को परिबर्तन करदिआ पूरी हिंदी में.

दोस्तो 21बी फीसदी के दुनिया में ऐसे कोई एक भी बंदा नहीं होगा जो Computer क्या है, इसका थोड़ा सा भी जनकरी नही होगा, और जिंदेगी में एक बार भी कंप्यूटर नहीं देखा होगा। कंप्यूटर को देखने से कंप्यूटर के बरेमे ते पता नहीं चलेगा, उसे चलना पड़ेगा और Computer के बारेमे पढ़ना पड़ेगा। तभी आप कंप्यूटर का expert वन पाएंगे।

उपलब्ध बिसय की सूचि hide

Computer in Hindi

इस पोस्ट में आप Computer क्या है, full form of computer, definition, कम्प्यूटर केसे काम करता है, कंप्यूटर का इतिहास, और बहत कुछ जानकारी मिलेगा।

Computer क्या है?

Computer क्या है

Computer शब्द लैटिन वर्ड “compute” से आइ हे। इसका मतलब हिसाब करना यानी गणना करना। इसीलिए computer को हिंदी में सन गंक बोला जाता है। पहले जिस mechanical device के सहायता से साधारण हिसाब किया जाता था उसको computer बोला जाता था।

मगर अभी कंप्यूटर का definition पूरी तरह से बदल गया है। अब कंप्यूटर का मतलब:

Computer एक electronic device, जो किसी भी मनुष्य या मशीनों से input लेता है, उसको अपने हिसाब से processing करता है, और उसके बाद सभी data को यूजर को output के रूप में लौटा देता है।

अब हम अलग अलग कंप्यूटर input device को इस्तेमाल करके कुछ specific काम सौपते हे और कंप्यूटर हमारे कमांड के अनुसार data को process करता हे, अंत में बहत सारे output device के सहायता से रिजल्ट प्रस्तुत करता हे।

Computer फुल फॉर्म क्या हे?

दोस्तों जैसे आपको बताया की कंप्यूटर Compute सब्द से आया हे। अगर आप कंप्यूटर का टेक्निकल फुल फॉर्म जानना चाहते हे तो आपको बतादे, Computer सब्द का कोई फुल फॉर्म नहीं हे। मगर लोगों के शब्दों में Computer का फुल फॉर्म बनाया गया हे।

C: Commonly (कॉमनली)

O: Operated (ऑपरेटेड)

M: Machine (मशीन)

P: Particularly (पर्टिक्यूलरली)

U: Used For (इउजुड फर)

T: Technical and (टेक्निकाल एंड)

E: Educational (एजुकेशनल)

R: Research (रिसर्च)

Computer: Commonly Operated Machine Particularly Used for Technical and Educational Research

कंप्यूटर Development का इतिहास

आबाकस First Computer

आबाकस: आज तक पता नहीं चल पाया की किसने और कब पहले कंप्यूटर का अबिस्कर किआ। मगर ये माना जाता हे की आजसे 5000 साल पहले आबाकस (Abacus) पृथिबी का प्रथम कंप्यूटर था। आबाकस कंप्यूटर लकड़ी के रैक से निर्मित हुआथा। इसमें कुछ पूर्व-प्रोग्रामिंग नियम था जिसे यूजर को याद रखना था। इस नियमो के अनुसार हिसाब किताब किआ जाताथा।

मॉडर्न कंप्यूटर का अबिस्कर किसने किआ?

कंप्यूटर तो बहत पहले बनाया गया था और इसका upgrade भी हो रहाथा। मगर सं 1812 में चार्ल्स बैबेज (Charles Babbage) ने एक स्वचालित यांत्रिक गणना मशीन (Automatic Mechanical Calculating Machine) का निर्माण किआ। उनके इस कंप्यूटर में ALU और Memory Storage का प्राबधान था। इस मशीन का नाम डिफरेंस इंजिन (Difference Engine) के नाम से नामित किआ गया। अभिका कंप्यूटर का मूल जड़ इस कंप्यूटर के डिज़ाइन से आया हे। इसीलिए चार्ल्स बैबेज को मॉडर्न कंप्यूटर का जनक के रूप में माना जाता हे।

charles-babbage-difference-engine
charles-babbage

कंप्यूटर का प्रथम प्रोग्रम्म किसने लिखा था?

चार्ल्स बैबेज के Difference Engine के उदभाबन के बाद ऐडा किंग (Ada King) ने उसी मशीन केलिए प्रोग्राम लिखा था। वही प्रोग्राम कंप्यूटर का प्रथम प्रोग्राम बना था।

कंप्यूटर पीढ़ी (Computer Generation)

पीढ़ी का मतलब पुरानी चीजों का सुधार करके नेई चीज तैयार करना। इसी तरह कंप्यूटर जनरेशन बहत सारे improvement हुए। एक हति जैसा कंप्यूटर अब चींटी के size में बदल गया हे। मेमोरी साइज में बहत बड़ी बदलाव हो रहा हे। स्पीड के मामले में अब Rocket के गति प्राप्त कर लिआ हे। तो कैसे और कब ये सब हुआ जानने केलिए आपको कंप्यूटर के जनरेशन पढ़ना पड़ेगा।

कंप्यूटर पहले पीढ़ी: 1946-1958

कंप्यूटर की प्रथम पीढ़ी को Vacuum Tube Years बोला जाता हे। क्युकी इस समय का कंप्यूटर के CPU में Vacuum Tube का इस्तेमाल किआ जाताथा। इस समय के कंप्यूटर बहत ही धीमा होता था, देखने में एक राख्यास के तरह दीखता था और इसका मूल्य बहत ही महंगा होता था।

उदाहरण: ENIAC, EDVAC, UINIAVAC-I

कंप्यूटर दूसरी पीढ़ी: 1959-1964

पहले पीढ़ी का कंप्यूटर में एक बड़ा और सठिक बदलाव किआगया था। दूसरी पीढ़ी में पेहेले पीढ़ी का Vacuum Tube के बदले Transistor का उपयोग किआ गया। ट्रांजिस्टर इलेक्ट्रिसिटी का संवाहक होता हे पता चल गया था। और भी ट्रांजिस्टर Vacuum Tube से बहत सस्ता, बिस्वासानिअ, और faster था। इस समय पे पहला High-Level Programming Language (COBOL and FORTRAN ) का development हुआ था। इसके साथ साथ इस समय में पहली बार कंप्यूटर अपनी मेमोरी में स्टोर किआ था।

कंप्यूटर की तीसरी पीढ़ी: 1965-1970

कम्प्यूटर की तीसरी पीढ़ी में सबसे बड़े उथल पुथल हुआ। पहले की ट्रांजिस्टर को Integrated Circuit (IC) चिप्स ने स्थान ले लिए। IC चिप्स बहत सारे सेमीकंडक्टर का एक पैक हे। इस तरह से बहत सारे सेमीकंडक्टर एक साथ आने पे कंप्यूटर का पावर बढ़ गया। पहले कंप्यूटर का आउटपुट देखने केलिए Printout निकालना पड़ता था। मगर इस जनरेशन में keyboard और monitor का integration किआ गया था। इस समय से कंप्यूटर का size छोटा होने लगा।

कम्प्यूटर की चौथी पीढ़ी: 1971- अब तक

अब आप जिस कंप्यूटर में इस पोस्ट को पढ़ रहे हो ये चौथी पीढ़ि का कंप्यूटर हे। चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर में IC चिप्स के बदले Miro-processor का इस्तेमाल हो रहा हे। माइक्रो प्रोसेसर एक ऐसा चिप हे जिसमे बहत सारे काम एक साथ करने का सामर्थ्य हे। इसमें आप multi-tasking काम एक साथ कर सकते हे।

अब कंप्यूटर में GUI (graphical user interface), Mouse, External Storage device, USB, और बहत कुछ तैयार हो गया हे। धीरे धीरे micro-processor का design और development होता जारहा हे और हमारा कंप्यूटर का काम करना क्षमता बढ़ता जा रहा हे।

कम्प्यूटर की पंचबी पीढ़ी: अबसे- भबिस्य

पंचबी पीढ़ी की कंप्यूटर की development अब तेजी से चल रहा हे। यह Artificial Intelligence technology के उपर आधारित हे। आगे की कंप्यूटर नानो टेक्नोलॉजी और सुपर सेमीकंडक्टर के साथ में बनाया जा रहा हे। इस पीढ़ी की कंप्यूटर आपको मनुस्य जैसा काम करते हुए दिखेंगे।इस कंप्यूटर को रोबोट्स बोलै जाएंगे। आप इस कंप्यूटर के सहायता से आपका प्रतिदिन का काम सरल होते जाएगा।

कंप्यूटर के विभिन्न प्रकार (Different Types of Computer)

कंप्यूटर को आम तौर पर 3 प्रकारों में विभाजित किया गया है।

  1. सुपर कंप्यूटर
  2. मेनफ्रेम कंप्यूटर
  3. व्यक्तिगत कंप्यूटर

सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

सुपर कंप्यूटर एक साथ करोडो computer के साथ communicate कर सकता हे। इस कंप्यूटर का स्पीड इतना हे की आप कल्पना नहीं करसकते। 2019 के एक रिपोर्ट के अनुसार पुरे world में कुछ गिने चुने देशो के पास उपलब्ध हे। इस कंप्यूटर को अभी रिसर्च,weather report, स्पेस कार्यकर्म, परमाणु अस्त्र, खनिज उत्तोलन तेल उत्पादन अदि कार्य में उपयोग होता हे।

मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)

मेनफ्रेम कंप्यूटर जयादातर बड़े बड़े कोम्पनिओ का उपयोग करता है। इस तरह के कंप्यूटर लाखो इनपुट एक साथ लेते हे और output भी दे सकते हे। इस कंप्यूटर को ज्यादातर बड़े बड़े प्रोजेक्ट जैसे जनगणना, आधार कार्ड डाटा, किसी भी कंपनी की सर्वे डाटा को एक साथ स्टोर करने में उपयोग होता हे।

व्यक्तिगत कंप्यूटर (Personal Computer)

व्यक्तिगत कंप्यूटर लगभक सभी लोगों के पास उपलब्ध हे। Personal Computer को हम हमारे दैनिक जीवन में उपयोग करते हे। ये दूसरे दो कंप्यूटर के तुलना में काफी छोटा होता हे। इसको हम हमारे घरपे और ऑफिस में भी उपयोग करते हे। अब Personal Computer को upgrade करके laptop computer बनाया गया हे। इसे हम हमारे साथ किसीभी बक्त चला सकते हे।

कंप्यूटर की विभिन्न अंग

अगर आप कोई भी कंप्यूटर को खोलके देखोगे तो आपको ऐसा देखेगा। इसमें आप बहत सारे छोटे बड़े component मिलेगा। एक के बिना कंप्यूटर का काम करना मुश्किल होता हे।

Computer के बहत सारे अंग में से कुछ अंग ऐसे होते हे जिसके बिना कंप्यूटर का चलना नामुनकिन हे। जैसे की

CPU (Central Processing Unit)

आप सब जानते हे की कंप्यूटर में एक CPU होता हे। आप कभी ना कभी सोचते होंगे Computer में CPU क्या हे? कैसे ये कंप्यूटर को चलता हे। आपको बता दू CPU कंप्यूटर का ब्रेन हे। इसको कंप्यूटर का मुख्य Processor बोलै जाते हे। कंप्यूटर कैसे काम करेगा और क्या काम करेगा, क्या input मिला और क्या output दिखाना हे सब कुछ CPU decide करता हे।

RAM (Random Access Memory)

लोग ज्यादातर कोई Smartphone खरीदने के समय RAM के बारेमे पूछते हे। अब सबाल उठता हे RAM क्या हे? असल में RAM एक volatile memory हे जो कोई भी डाटा को कुछ समय केलिए याद रखता हे और उसके बाद भूल जाता हे। और भी कंप्यूटर का RAM कंप्यूटर का performance को।

Motherboard

Mother-Board में mother word अर्थ माता। जैसे हमारे घर में माँ सबका साथ देके सबको control करते हे वैसे कंप्यूटर का Motherboard कंप्यूटर का सभी अंगो को एक को दूसरे से connect करता हे।

Hard Disk

कंप्यूटर का memory/Storage card को Hard Disk बोला जाता हे। इसमें कंप्यूटर सब कुछ स्टोर करके रखता हे। आप जो भी इनपुट देते हे और कंप्यूटर जो आउटपुट निकलता हे, इसको इस मेमोरी में स्टोर करता हे। इसके अलावा आपका संगीत, वीडियो, फोटो और अन्य फाइल याद करके रखता हे।

Computer के बाहरी अंगो

कंप्यूटर के भीतरी अंगो के बाद बहत सारे बाहरी अंगो हे जो कंप्यूटर को अधिक powerful बनता हे। कंप्यूटर के बाहरी अंगो को दो भाग में विभाजित किआ गया हे।

  • Input Devices
  • Output Devices

Input Devices

जिस बाहरी devices के सहायता से computer को आदेश प्रदान करते हे उस device को Input Device बोला जाता हे।

Example: Keyboard, Mouse, Touch Screen, Optical/magnetic Scanner, etc.

Output Devices

जिस बाहरी devices के सहायता से Computer अपना रिजल्ट user को प्रदान करता हे उस device को Output Devices बोलै जाता हे।

Example: Monitor, Printer, Headphones, Projector, etc.

Weather Power Supply is an input Device or Output Device?

Tell Us your views by Commenting Below

कंप्यूटर Software क्या हे?

अगर हम कंप्यूटर को मनुस्य के body के साथ तुलना करेंगे तो जैसे हमारा हड्डी और खून आपस में निर्भर वैसे कंप्यूटर के Hardware पूरी तरह से Software उपर निर्भर हे। कंप्यूटर Software में प्रोग्रामर कंप्यूटर को बताते हे की इस तरह का इनपुट आने पे क्या आउटपुट देना हे। Software, hardware को कमांड देता हे की कैसे काम करना हे।

Computer कैसे काम करता हे?

कंप्यूटर का काम साधारण में user से input लेना और उस input को अपने प्रोग्राम के हिसाब से प्रोसेस करता हे और processing के बाद output को user को लौटा देता हे। कंप्यूटर का ये काम बोलना आसान हे मगर असल में कंप्यूटर का काम करना कठिन हे।

कंप्यूटर साधारण में binary कोड यानि 0 और 1 समझता हे। कंप्यूटर में सभी keyboard के बटन को एक नंबर में assign किआ जाता हे। जब हम कोई नंबर और key press करते हे तब कंप्यूटर में Compiler हमारे भाषा को कंप्यूटर समझ ने वाली भाषा में रूपांतर (Translate) करदेता हे। Computer problem को समाधान करके हमें रिजल्ट देता हे।

Source: vimeo.com

पहले से ही Computer में कुछ प्रोग्राम लिखा जाताहे और कंप्यूटर को विस्तार से बताया जाता है। इसके बाद कंप्यूटर उस प्रोग्रमम के अनुसार Computer काम करता हे।

You may Like:

PC को मोबाइल से कैसे control करे

आरोग्य सेतु ऐप क्या हे, कैसे कोरोना संक्रमण दिखाता हे ये ऐप

कंप्यूटर का उपयोग क्या हे (Uses of Computer)

  • रख्या यानी Defence मे Computer बहति बड़ा भूमिका ग्रहण करता है ।
  • स्वास्थ्य सेवा में कंप्यूटर का कार्य अपूरणीय
  • बाणिज के मामले में कंप्यूटर एक महत्व पूर्ण कड़ी है
  • मनोरजन और संगीत कंप्यूटर के बिना नामुमकिन होता
  • सबसे महत्वपूर्ण सेवा इंटरनेट सेवा उपयुग
  • बैंक कोरियर सेवा में अपयुग
  • Communication सेवा में सहयुग
  • खेल कूद में इस्तेमाल होता है।
  • सिख्या में बड़ी भूमिका लेता है

इसके अलावा कंप्यूटर हमारे रोज मरोर का जिंदगी का एक अभिन्न अंग बनगया हे। कंप्यूटर के बिना पूरी दुइए सायद ठप्प हो जाएगा।

  1. Computer क्या है?

    Computer एक Electronics device हे जो मनुस्य से कमांड लेता हे, उसे प्रोसेस करता हे और Output/Result के रूप में हमें प्रदान करके हमारा जटिल से जटिल काम को सरल रूप में कर देता हे।

  2. कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या हे?

    वैसे कंप्यूटर का कोई फुल फॉर्म नहीं हे मगर हम Common Operating Machine Purposely Used for Technological and Educational Research को कंप्यूटर का फुल फॉर्म बताते हे।

  3. PC का मतलब क्या हे?

    PC का फुल फॉर्म Personal Computer. यानि हम लोगो जिस कंप्यूटर को हमारे ख़ुद केलिए उपयोग करते हे, उसे Personal Computer (PC) बोलै जाता हे।

  4. भारत में कितने सुपर कम्यूटर उपलब्ध हे?

    2019 के एक रिपोर्ट्स के अनुसार भारत के पास लगभक 8 सुपर कंप्यूटर उपलब्ध हे।

  5. कंप्यूटर के जनक कौन हे?

    चार्ल्स बैबेज (Charles Babbage) को कंप्यूटर के जनक बताया जाता हे।

  6. क्या हमारा मोबाइल फ़ोन एक कंप्यूटर हे?

    जी हाँ, हमारा मोबाइल फ़ोन एक कंप्यूटर हे।

अंतिम बात

दोस्तों इस पोस्ट में मेने आपको कंप्यूटर introduction हिंदी में सुरु करके Computer क्या है, कंप्यूटर का फुल फॉर्म, कंप्यूटर History हिंदी में, parts ऑफ़ कंप्यूटर, Computer Uses और बहत कुछ पूरी आसान भासा में समझनेकी कोसिस की हे। में आशा करता हूँ आपको Computer Basic Knowledge in Hindi समझ में आया होगा।

अगर इस पोस्ट को पढ़के कुछ सिखने को मिला, तो आप इससे अपने सोशल मीडिया अकाउंट में Share करके अपने प्रोफाइल का सोभा बढ़ाइए।

अगर इस पोस्ट में कुछ त्रुटि हे और कुछ सुद्धार करना हे अथबा आपका कुछ सवाल हे तो आप नीचे कमेंट में बताइए।

1 thought on “Computer क्या है? What is Computer in Hindi?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *