What is URL? URL Full Form क्या है हिंदी में

दोस्तों क्या आप URL क्या है जानना चाहते हो? URL Full Form क्या होता है? कैसे आप URL पेहेचान पाओगे। जानिए URL कैसे काम करता है और URL का मुलभुत ज्ञान अपने भाषा हिंदी में।

कोई भी सरकारी Job Notification हो या कोई भी E-Commerce product हो, सभी में आप को एक URL मिलेगा। अब सबाल उठता है सभी जगह ये URL नाम बताया जाता है। ये URL नाम का चीज क्या होता है (What is URL?) और URL Full Form क्या होता है। चलिए इस पोस्ट में URL के बारेमे पूरी जानकारी लेते है।

What is URL?

URL Full Form और URL क्या है

URL कोई भी web page का पता होता हे जिसमे user, किसीभी web page का तथ्य को browser के सहायता से access कर सकता है, उसमे उपलब्ध डाटा को पढ़ सकता है और लिख सकता है ।

URL क्या है, को समझने से पहले URL को हमारी निजी जिंदगी के साथ तुलना करना पड़ेगा। मानलो आप एक सहर में रहते हो और सहर के किसी एक गली में आपका घर है। अगर कोई भी अनजान लोग आपके घर तक आना हे पहले, उसके पास आपका घर का पता हात में होना चहिहै।

इसीतरह अगर में एक Web page को आपका घर मानलू , आपका पता को URL और आपका सहर को Web page का Domain. जब कोई भी लोग आपके घर जैसा web page में आना चाहता है तो पहले उससे आपका पेज का address यानि URL मालूम होना चाहिए। पहले वो आपका Domain वाली City में आएगा और उसके बाद URL वाली पते पे जाकर घर वाला वेबपेज को access करेगा।

URL Full Form क्या है

URL Full Form अक्सर सभी competitive सरकारी परिख्या में पूछे जाते है। और भी मोबाइल फ़ोन के इस Digital Revolution युग में आपको URL का सबिसेष ज्ञान होना चाहिए।

URL: Uniform Resource Locator

URL full form हिंदी में बोले जाए तो कोई निर्धिस्ट संसाधन का पहचान

अगर URL को आसान भाषा में बोलै जाए तो पृथबी के कोई भी location में महजूद संसाधन(File) को खोजके निकलना। आपने URL full form जनलिए। चलिए URL के बारेमे अधिक कुछ जानते है।

URL का इतिहास (History of URL)

सं 1992 में ब्रिटिश Engineer Tim Berners-Lee ने पहेली बार केलिए URL यानि Uniform Resource Locator के बारेमे दुनिआ को अबगत कराया। HTML language के सहायता से बनाया गया। बहत सारे पेज को एक server में रखा गया सभी फाइल को अपने नाम के अनुसार Host नाम(Domain) के बाद जोड़ा गया। इसको URL बोला गया।

1992 से पहले कोई भी file को देखने केलिए // (double Slash) का उपयोग होता था। मगर URL और World Wide Web का आने के बाद कोई भी डोमेन नाम को (.) symbol के साथ separate किए गए और URL को /(Single Slash) के द्वारा separate किए गए। इससे हमारा URL बहत pretty और सुन्दर हो गया।

अब सवाल उठता है क्या URL और Domain name एक हे? इसका उत्तर हे ना, ये दोनों एक नहीं है। मगर अक्सर लोग URL और डोमेन नाम को एक समझते है। चलिए उनका इस confusion को दूर करते है।

Different Parts of URL

आप दुनिआ के कोई भी URL को study करोगे तो आपको इन् तीन चीजों देखने को मिलेगा।

  1. Protocol
  2. Domain/Hostname
  3. URL Path

इन् तीनो में से आपको कभी कभी URL Path देखने को नहीं मिल सकता है मगर Protocol और Domain/Host नाम सभी URL में महाजूट होते है।

Parts of URL

तो चलिए URL का इन् सभी पार्ट्स के बारेमे अधिक जानते है।

Protocol

जैसे की आप जानते है internet पे जब आप कोई भी web page खोलते है तभी दूसरे कोई भी Computer में उपलब्ध डाटा आपके computer में ट्रांसफर होते है। जब आपके कंप्यूटर से डाटा request Server कंप्यूटर में जाता हे तभी आपके कंप्यूटर और Server कंप्यूटर के अंदर एक Connection तैयार होता है। इस Connection को Protocol बोलै जाते है। जब आप अपने Web Browser पे कोई भी URL को डालके Enter Button को क्लिक करेंगे तभी आप अपने URL के पीछे कुछ अपने आप http:// और https:// लिखा हो जाता है। ये कोई भी पेज में ये कोई भी URL का सबसे पहले कड़ी होती है। 

Example: http://, https://, ftp: mailto:, tel:

Domain/Hostname

दुनिआ में बहत सरे कंप्यूटर जो World Wide Web का एक part होते है। इन् computer से data लाने केलिए इन् सभी कंप्यूटर को एक नाम में पुकारा जाता है। कंप्यूटर के इस नाम को Host name बोला जाता है। कोई भी कंप्यूटर को एक IP (Internet Protocol) नाम assign किआ जाता है। अगर आप Computer के IP को Web browser में डालोगे तो आप उस कंप्यूटर के द्वारा public किए गए file को देखोगे।

Example of IP: 2411:4900:110a:f541:7900:2a30:c44:4f6f, 8.8.8.8, 102.230.633.33

इन् IP को हरबक्त याद रखना मुश्किल हे। इसीलिए इन् IP के बदले एक Domain name System का use किआ जाता है।

Example of Domain Name: blogno1.com, wikipedia.org, digitalcsc.in, google.com etc 

URL Path

URL path मतलब URL का पथ। जैसे आप अपने Mobile और Computer में कोई भी File को अपने हिसाब से folder बनाके रखते है वैसे Web server में कोई भी page file एक folder के अंदर रहता है। इस फाइल का पथ Host name के बाद लिखा हो जाता है।

Example of URL Path: https://en.wikipedia.org/wiki/URL, https://www.blogno1.com/category/blogging/ etc.

How to Use a URL?

अगर आप कोई भी URL को खोलना चाहते हो तो आपको सबसे पहले आपके कंप्यूटर या मोबाइल में एक browser होना चाहिए। अब अपने URL को browser में search करेंगे तो आप उस URL को खोल पाओगे।

इसके अलावा आप दूसरे बहत place पे URL का Use कर सकते हे.जैसे:

  • <a>…</a> anchor text को use करके कोई भी दूसरे Website/Blog या HTML पेज में उपयोग करसकते है।
  • <link> को भी use करके आप various documents में लगा सकते है।
  • आप कोई भी Image URL को <img> anchor text लगा सकते है।
  • इसके अलावा <audio>, <iframe>, <video>, <script> जैसे tag को अन्य फाइल केलिए उपयोग कर सकते है।

क्या आप Processor क्या है- What is Processor in Hindi जानते हे?

Types of URL

साधारणतः URL 3 भाग में बांटा गया है:

  • Fully Qualified URI
  • From the Root URL
  • Relative URL

Fully Qualified URI

Fully Qualified URI (Universal Resource Identifier) कोई भी एक फाइल जैसे Audio File, image file, video File का URL को बोला जाता है। इस URL को किसीभी Web page और E-Mail पे embedded करा जा सकता है।

Example: https://www.blogno1.com/wp-content/uploads/2020/04/what-is-computer.jpg

From the Root

From the Root URL में कोई भी फाइल के URL को use करने समय URL के दो parts https//: और Hostname को eliminate करदिअ जाता है। इस तरह URL सेफ होते है।

Example: /wp-content/uploads/2020/04/what-is-computer.jpg

Relative URL

Relative URL में कोईभी पेज को उसी होस्ट के अन्य पेज में इस्तेमाल करा जासकते है। इससमे फाइल के अलावा HTML को एम्बेडेड करा जासकता है।

Example: https://www.blogno1.com/what-is-computer-in-hindi/ can be written as: /what-is-computer-in-hindi/
  1. URL Full Form क्या है?

    URL का Full Form Uniform Resource Locator होता है। हिंदी में निर्धिस्ट संसाधन का पहचान भी बोलसक्ते है।

  2. क्या IP address को URL बोलै जासकता है?

    हां, IP address को URL बोलै जासकता है।

  3. http या https, कौनसी वाली protocol secure होता है?

    HTTP का अर्थ Hypertext Transfer Protocol और HTTPS का अर्थ Hypertext Transfer Protocol Secure. दोनों में HTTPS secure protocol होता है। इसमें user के द्वारा दिए गए तथ्य encrypted format में server तक पहंचता है।

  4. क्या HTTP URL में banking transaction करना safe होगा?

    नहीं, आप HTTP URL में कोई भी banking transaction मत कीजिए। क्युकी ये secure protocol नहीं हे। इसमें आपका जरुरी Banking information (Credit Card, debit कार्ड Number) चोरी होसकती है।

  5. HTTPS और HTTP URL कैसे पहचाने?

    HTTPS और HTTP URL को आप अपने Web Browser के सहायता से पहचान सकते है। अगर URL के पीछे एक ताला Symbol आता है तो ये HTTPS URL है अगर ताला icon नहीं हे तो ये HTTP URL हे।

अंतिम बात

अभी मुझे पूरी भरोसा हे की आप मेरे इस छोटे से प्रयाश से आपको URL क्या है, URL Full Form, Different parts of URL जैसे जरुरी तथ्य का जानकारी हुआ हे।

अंतिम में मेरा ये सुझाव हे की आप जब Internet पे कोई भी Online Payment कररहे होंगे, सबसे पहले देखिए की आपका Website HTTPS में हे या HTTP में है। अगर वेबसाइट HTTPS में नहीं होगा तो आप अपना Credit कार्ड जैसे Personal तथ्य को मत डालिए। क्युकी आपके कंप्यूटर और वेबसाइट के Server कंप्यूटर के अंदर एक बाँदा आपके डाटा को लेकर गलत इस्तेमाल करसकता है।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो आप इस पोस्ट को जरूर अपने Facebook पेज में शेयर कीजिए। धन्यबाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *